एमटीवी रोडीज - पहला विजेता, ऑडिशन

एमटीवी रोडीज युवाओं पर आधारित लोकप्रिय रिएलिटी टैलिविज़न शो है। रोडीज में यात्रा, साहसिक कार्य, नाटक, कामदर्शिता की झलक होती है। रोडीज ऑडिशन भारत के विभिन्न प्रमुख शहरों में आयोजित किये जाते हैं। जो लोग ऑडिशन के लिए आते हैं उन्हें एक फार्म भरने के लिए दिया जाता हैं, फिर उन्हें समूह-चर्चा करनी होती हैं, जिसके बाद एमटीवी पैनल चयनित उम्मीदवारों का व्यक्तिगत साक्षात्कार लेता हैं।

एमटीवी पैनल, एमटीवी के विशेषज्ञों का गठन है। रोडीस की संख्या 13 से 20 के बीच बदलती रहती है, हालांकि पहले सीज़न में, केवल 7 लोगों ने चेन्नई से चैल तक मोटर साइकिल सवारी की थी। ऑडिशन देने पर कोई सीमा नहीं है, एक व्यक्ति जितनी बार चाहे ऑडिशन दे सकता है। छठे सीज़न में, इन्टर्व्यू के बाद, २० रोडीस का चयन किया गया था।

चुने गए रोडीज को पूर्व-निर्धारित मार्ग पर यात्रा करने के लिए हीरो होन्डा करिज़्मा बाईक दी जाती हैं। प्रत्येक एपिसोड में वोट-आउट की विशिष्टता है, जिस में एपिसोड के अंत में सभी रोडीस एक गुमनाम वोट द्वारा अपने साथी रोडीस में से किसी एक को हटाना होता हैं, इस तरह सफ़र में चलते-चलते रोडीस की संख्या घटती जाती है।

प्रत्येक एपिसोड में रोडीस के समक्ष अनेकविध कार्य या चुनौतियों होती हैं, जिन्हें उनको पूरा करना होता हैं। ये कार्य "धन संबंधित कार्य" या "बचाव संबंधित कार्य" हो सकते हैं। "धन संबंधित कार्य" में, इन कार्यों को सफल रूप से समापन करने पर रोडीस अपने खाते में पैसे जमा करेंगे, जबकि "बचाव संबंधित कार्य" की सफल पूर्ति पर जितने वाला दल या रोडी प्रतिरक्षण पाता है।

प्रतिरक्षण पाने वाला दल या रोडी, वोट-आउट से सुरक्षित हो जाता है, यानि की अब उसके सदस्यों को इस एपिसोड में मतदान से हटाया नहीं जा सकता है। उपर्युक्त कार्य या तो दल-आधारित होतें हैं यानि की दो या दो से अधिक दलों के बीच किए जातें हैं या व्यक्तिगत होतें हैं, अर्थात् एक-एक के बीच किए जातें हैं। अनुसूचित यात्रा के अंत में, जो रोडी आखिर तक टिक पाया होता है, उसे विजेता घोषित किया जाता है और वह अब तक धन संबंधित कार्य से जमा सारी नकद साथ ले जा सकता है।

पांचवीं सीज़न में पहली बार लाभ कार्य शुरू किया गया। लाभ कार्य के विजेता/विजेताओं को वोट-आउट में कुछ लाभ मिलते हैं, जिसमें वोट-आउट में एक से अधिक वोट देने का या सिर्फ उसे ही वोट देने का लाभ मिलता है।

एमटीवी रोडीज का पहला विजेता कौन था

रोडीज के प्रथम सीज़न के विजेताओं में से एक रणविजय सिंह, सीज़न 2 से लेकर बाकि सभी रोडीस के प्रतियोगिताओं के होस्ट रहे।


रोडीस सीज़न 2 के विजेता आयुषमान खुराना, एमटीवी पर वास्सअप - दि वाइस ऑफ यंगिस्तान, स्ट्रिप्ड, फंटास्टिक 5 नामक कार्यक्रमों का संचालन कर रहें हैं। उन्हें इन्डिया'स गोट टैलेंट में भी मौका मिला था।

रोडीज 5 के विजेता आशुतोष कौशिक, लोकप्रिय भारतीय रियालिटी टीवी कार्यक्रम बिग बोस के दूसरे सत्र में हाउसमेट रहे थे और अंत में उसके विजेता बने थे!

सीज़न 4 के ऋषभ धीर को अब एमटीवी में नौकरी मिल गई है और वे रोडीस 7 के सफर में एक साथी बनकर जा रहें हैं।

शाम्भवी शर्मा को, एकता कपूर और सुनील शेट्टी द्वारा निर्मित द लिटल गोडफाधर में एक भूमिका पेश की गई थी। एक और प्रतियोगी, अनमोल सिंह ने एकता कपूर की कुछ इस तरह में अर्चिता की भूमिका हांसिल की थी। बाद में ईन दोनों ने MTV के हेवन@7 पर जी टॉक का संचालन किया था।

विशाल के साथ वरुण सैनी (एमटीवी रोडीज सीज़न 4 के प्रतियोगी), एमटीवी स्प्लिट्सविला नामक एमटीवी के अन्य रियालिटी शो के लिए चुने गए थे। विशाल कलर्स चैनल के 'भाग्यविधाता' शो में भी देखने को मिलते हैं। हाल ही में आयाज़ फास्ट ट्रैक के विज्ञापन में पिज्जा लड़कों में एक की भूमिका में देखे गए और एकता कपूर की 'कितनी महोब्बत है में भूमिका पाई है।

एमटीवी रोडीज सीज़न 4 के अंतिम प्रतियोगीयों में से गुरबानी जज उर्फ बानी जे, अब MTV भारत पर पेप्सी MTV वास्सअप को मेज़बान कर रही है। एमटीवी रोडीज सीज़न 2 के विजेता, आयुषमान खुराना भी MTV वास्सअप में एक मेज़बान हैं और हाल ही में उन्हों ने सामान्य मनोरंजन कलर्स चैनल पर इंडिया गोट टैलेंट शो की मेजबानी की थी।



सीज़न 1: रणविजय सिंह

सीज़न 2: चंड़ीगढ़ से आयुष्मान खुराना

सीज़न 3: दिल्ली से पारुल शाही

सीज़न 4: कोलकाता से एन्थोनी येह

सीज़न 5: सहारनपुर से आशुतोष कौशिक

सीज़न 6: बैंगलूर से नौमन सैत

सीज़न 7: अनवर सईद

सीज़न 8: दिल्ली से आंचल खुराना

सीज़न 9: चंडीगढ़ से विकास खोकर

सीज़न 10: बंगलौर से पलक जौहल

सीज़न 11: पुणे से निखिल सचदेव

सीज़न 12: पंजाब से प्रिंस नरुला

सीज़न 13: जालंधर से बलराज सिंह खेहरा